योज्य विनिर्देश प्रक्रिया

सही योज्य ढूँढ़ना

योज्य विनिर्देश प्रक्रिया

हमारे पास इतने सारे योज्य प्रकार होने और इतनी सारी संभावित एप्लिकेशन के साथ, हम योज्य विनिर्देश प्रक्रिया के दौरान यह सुनिश्चित करने के लिए अनेक कारकों पर विचार करते हैं कि उच्चतम एंटीमाइक्रोबियल निष्पादन संभव हो। इसमें रक्षा की जाने वाली सामग्री, इस्तेमाल की जाने वाली निर्माण प्रक्रिया और यह शामिल होता है कि उत्पाद का निर्माण, बिक्री और उपयोग कहाँ होगा।

सबसे उपयुक्त एंटीमाइक्रोबियल योज्य या एडिटिव निर्दिष्ट करने के लिए, हम आम तौर पर तीन मुख्य मानदंड देखते हैं:

सामग्री
हम बुनियादी बातों के साथ शुरू करते हैं: वह सामग्री जिसका उपचार किया जाना है और सरल रसायन विज्ञान की समझ। BioCote® एंटीमाइक्रोबियल प्रौद्योगिकी के लिए कुछ सबसे सबसे अधिक आवृत्ति की एप्लिकेशन पर एक नज़र डालें।

निर्माण प्रक्रिया
आपकी सामग्री के अलावा, आपके उत्पाद के निर्माण में इस्तेमाल की जाने वाली प्रक्रियाओं की समझ से आपके लिए सबसे ज़्यादा उपयुक्त एंटीमाइक्रोबियल योज्य निर्धारित करने में मदद मिलेगी।

तैयार उत्पाद
अंत में, हम तैयार एंटीमाइक्रोबियल उत्पाद के बारे में और अधिक जानना चाहते हैं, जैसे दुनिया में इसकी बिक्री कहाँ होगी, इसका अंतिम उपयोग और वह परिवेश जिसमें इसका उपयोग किया जाएगा, और सौंदर्यशास्त्र। हम कमर्शियल निहितार्थों पर भी विचार करते हैं, जैसे ओवरहेड ख़र्चे।

हमारी विशेषज्ञता का मतलब है की आपूर्ति किया गया एंटीमाइक्रोबियल योज्य या एडिटिव अभिप्रेत उपयोग के लिए हमेशा उपयुक्त होगा, उत्पादों की कार्यक्षमता और निष्पादन को और आगे बढ़ाएगा और निश्चित रूप से मूल्य में वृद्धि करेगा। इस बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करें कि BioCote® ने ग्राहकों को किस प्रकार एंटीमाइक्रोबियल उत्पादों के साथ अपने उत्पाद की पेशकश बढ़ाने में सक्षम बनाया है।